Zindagi Shayari In Hindi | Life Shayari And Status | Shayari On Life

life shayari in Hindi for zindagi

Zindagi Shayari in Hindi: If you want to get the best Zindagi Shayari in Hindi and share it with your friends then We are providing Latest Collection of Shayari like best Zindagi Shayari for love, Heart Touching Zindagi Shayari, Emotional Zindagi Shayari, Attitude Life Shayari. I hope you liked this English & Hindi Life Shayari collection. You will get all the Latest and updated collection of Zindagi Shayari in Hindi. Also Check our updated Dil Shayari and Friendship Shayari.

Zindagi Shayari in Hindi for Life & Love

  • Zindagi Bahut Khoobasurat Hai, Zindagi Se Pyar Karo,
    Agar Ho Raat To, Subah Ka Intajaar Karo,
    Wo Pal Bhi Aaega Jiska Tujhe Intezaar Hai,
    Bas Us Khuda Par Bharosa Aur Wakt Par Aitavaar Karo.

 

  • जिंदगी बहुत खूबसूरत है, जिंदगी से प्यार करो,
    अगर हो रात तो, सुबह का इंतजार करो,
    वो पल भी आएगा जिसका तुझे इंतेज़ार है,
    बस उस खुदा पर भरोसा और वक्त पर ऐतवार करो।

 

  • Zindagi Mein Jeet Aur Haar Hai Kiske Liye,
    Ek Doosare Mein Itni Takraar Hai Kiske Liye,
    Jo Aaya Hai Is Duniya Me Ek Din Wo Jaega,
    E Insa To Tujhe Itna Guman Hai Kiske Liye.

 

  • जिंदगी में जीत और हार है किसके लिए,
    एक दूसरे में इतनी तकरार है किसके लिए,
    जो आया है इस दुनिया मे एक दिन वो जाएगा,
    ए इंसा तो तुझे इतना गुमान है किसके लिए।

 

  • Zindagi Mein Jab Aap Sahi Hoten Hain,
    To Ise Koi Yaad Nahi Rakhta,
    Aur Zindagi Mein Jab Aap Galat Ho Jate Hai,
    To Ise Koi Nahi Bhoolta.

 

  • ज़िन्दगी में जब आप सही होतें हैं
    तो इसे कोई याद नही रखता,
    और जिंदगी में जब आप गलत हो जाते है
    तो इसे कोई नही भूलता।

 

  • Pyar Mein Kisi Ko Khona Bhi Zindagi Hain,
    Zindagi Me Gamo Ka Hona Bhi Zindagi Hai.
    Yun To Rehti Hain Hotho Par Muskurahat,
    Par Chupke Se Kisi Ke Liye Rona Bhi Zindagi Hai.

 

  • प्यार में किसी को खोना भी ज़िन्दगी हैं,
    ज़िन्दगी में गमो का होना भी ज़िन्दगी है.
    यूँ तो रहती हैं होठों पर मुस्कराहट,
    पर चुपके से किसी के लिए रोना भी ज़िन्दगी है।

 

  • Ai Zindagi Tu Mujhe Udna Sikha De,
    Mujhe Halaton Se Ladna Sikha De,
    Har Haal Mein Khush Rahna Sikha De,
    Aur Har Haar Se Tu Mujhe Jeetna Sikha De.

 

  • ए ज़िन्दगी तू मुझे उड़ना सिखा दे,
    मुझे हालातों से लड़ना सिखा दे,
    हर हाल में खुश रहना सिखा दे,
    और हर हार से तू मुझे जीतना सिखा दे।

 

  • Zindagi… Bahut Khoobsoorat Hai,
    Kabhi Hansati Hai, To Kabhi Rulati Hai,
    Lekin Jo Zindagi Ki Bheed Mein Khush Rahta Hai,
    Zindagi Usi Ke Aage Sir Jhukati Hai.

 

  • ज़िन्दगी… बहुत खूबसूरत है,
    कभी हंसाती है, तो कभी रुलाती है,
    लेकिन जो ज़िन्दगी की भीड़ में खुश रहता है,
    ज़िन्दगी उसी के आगे सिर झुकाती है।

 

  • Zindagi Mein Chhaanv Hai To Kabhi Dhoop Hai,
    Ai Zindagi Na Jane Tere Kitne Roop Hain,
    Zindagi Mein Halaat Jo Bhi Hon,
    Lekin Zindagi Mein Muskurana Nahi Bhoola Karte Hain.

 

  • जिंदगी में छांव है तो कभी धूप है,
    ऐ जिंदगी न जाने तेरे कितने रूप हैं,
    जिंदगी में हालात जो भी हों,
    लेकिन जिंदगी में मुस्कुराना नही भूला करते हैं।

 

  • Is Duniya Me Koi Khushiyon Ki Chah Me Rota Hai,
    Koi Gamo Ki Panaah Me Rota Hai,
    Ajeeb Zindagi Ka Silasila Hai,
    Koi Bharose Ke Liye Rota Hai,
    Koi Bharosa Karke Rota Hai.

 

  • इस दुनिया में कोई खुशियों की चाह में रोता है,
    कोई गमो की पनाह में रोता है,
    अजीब ज़िन्दगी का सिलसिला है,
    कोई भरोसे के लिए रोता है,
    कोई भरोसा करके रोता है।

 

  • Dekha Hai Zindagi Ko Kuchh Itne Qareeb Se,
    Chehre Tamam Lagne Lage Hain Ajeeb Se.

 

  • देखा है ज़िंदगी को कुछ इतने क़रीब से,
    चेहरे तमाम लगने लगे हैं अजीब से।

 

  • Jo Padha Hai Use Jeena Hi Nahin Hai Mumkin,
    Zindagi Ko Main Kitabon Se Alag Rakhta Hoon.

 

  • जो पढ़ा है उसे जीना ही नहीं है मुमकिन,
    ज़िंदगी को मैं किताबों से अलग रखता हूँ।

 

  • Kabhi Aankhon Pe Kabhi Sar Pe Bithaye Rakhna,
    Zindagi Nagavaar Sahi Dil Se Lagaye Rakhna.

 

  • कभी आँखों पे कभी सर पे बिठाए रखना,
    ज़िंदगी नागवार सही दिल से लगाए रखना।

 

  • Kya Likhun Hakeekat-E-Dil Aarzoo Behos Hai,
    Khat Par Aansoo Bah Rahe Hain Kalam Khamosh Hai.

 

  • क्या लिखूं हकीकत-इ-दिल आरज़ू बेहोश है,
    खत पर आंसू बह रहे हैं कलम खामोश है.

 

  • Kabhi Khirad Kabhi Deewangi Ne Loot Liya,
    Tarah Tarah Se Hamen Zindagi Ne Loot Liya.

 

  • कभी ख़िरद कभी दीवानगी ने लूट लिया,
    तरह तरह से हमें ज़िंदगी ने लूट लिया।

 

  • Khwabon Par Ikhtiyaar Na Yaadon Pe Zor Hai,
    Kab Zindagi Guzari Hai Apane Hisaab Mein.

 

  • ख़्वाबों पर इख़्तियार न यादों पे ज़ोर है,
    कब ज़िंदगी गुज़ारी है अपने हिसाब में।

 

  • Kabhi Khole To Kabhi Zulf Ko Bikhraye Hai,
    Zindagi Sham Hai Aur Sham Dhali Jaye Hai.

 

  • कभी खोले तो कभी ज़ुल्फ़ को बिखराए है,
    ज़िंदगी शाम है और शाम ढली जाए है।

 

  • Kabhi Saaya Hai Kabhi Dhoop Muqaddar Mera,
    Hota Rahta Hai Yun Hi Qarz Barabar Mera.

 

  • कभी साया है कभी धूप मुक़द्दर मेरा,
    होता रहता है यूँ ही क़र्ज़ बराबर मेरा।

 

  • Katati Hai Aarzoo Ke Sahare Par Zindagi,
    Kaise Kahun Kisi Ki Tamanna Na Chaahiye.

 

  • कटती है आरज़ू के सहारे पर ज़िंदगी,
    कैसे कहूँ किसी की तमन्ना न चाहिए।

 

  • Kabhi Khirad Kabhi Deewangi Ne Loot Liya,
    Tarah Tarah Se Hamen Zindagi Ne Loot Liya.

 

  • कभी ख़िरद कभी दीवानगी ने लूट लिया,
    तरह तरह से हमें ज़िंदगी ने लूट लिया।

 

  • Hajaron Uljhanen Rahon Mein Aur Koshishen Behisab,
    Isi Ka Naam Hai Zindagi Chalte Rahiye Janaab.

 

  • हजारों उलझनें राहों में और कोशिशें बेहिसाब,
    इसी का नाम है ज़िन्दगी चलते रहिये जनाब।

 

  • Dhoop Mein Niklo Ghataon Mein Naha Kar Dekho,
    Zindagi Kya Hai Kitaabon Ko Hata Kar Dekho.

 

  • धूप में निकलो घटाओं में नहा कर देखो,
    ज़िंदगी क्या है किताबों को हटा कर देखो।

 

  • Kis Tarah Jama Karen Ab Apne Aap Ko,
    Kagaz Bikhar Rahe Hain Purani Kitab Ke.

 

  • किस तरह जमा करें अब अपने आप को,
    काग़ज़ बिखर रहे हैं पुरानी किताब के।

 

  • Kitni Sachchai Se Mujh Se Zindagi Ne Kah Diya,
    Tu Nahin Mera To Koi Doosra Ho Jaeyga.

 

  • कितनी सच्चाई से मुझ से ज़िंदगी ने कह दिया,
    तू नहीं मेरा तो कोई दूसरा हो जाएगा।

 

  • Kuchh Din Se Zindagi Mujhe Pahachanati Nahin,
    Yun Dekhti Hai… Jaise Mujhe Janati Hi Nahin.

 

  • कुछ दिन से ज़िंदगी मुझे पहचानती नहीं,
    यूँ देखती है… जैसे मुझे जानती ही नहीं।

 

  • Lekar Aayi Hai Kis Maqam Pe Ye Zindagi Mujhe,
    Mahsoos Ho Rahi Hai Khud Apni Kami Mujhe.

 

  • लेकर आयी है किस मक़ाम पे ये ज़िंदगी मुझे,
    महसूस हो रही है ख़ुद अपनी कमी मुझे।

 

  • Raftaar Kuchh Is Kadar Tez Hui Hai Zindagi Ki,
    Ki Subah Ka Dard Shaam Ko Purana Ho Jaata Hai.

 

  • रफ़्तार कुछ इस कदर तेज़ हुई है जिन्दगी की,
    कि सुबह का दर्द शाम को पुराना हो जाता है।

 

  • Bas Ek Najar Hai… Le De Ke Apne Paas,
    Kyu Dekhen Zindagi Ko Kisi Ki Nazar Se.

 

  • बस एक नजर है… ले दे के अपने पास,
    क्यूँ देखें ज़िन्दगी को किसी की नज़र से।

 

  • Paresan Ho Chuke Hain Zindagi Ki Kashmkash Se Ham,
    Thukara Na De Zamane Ko Kahin Bedili Se Ham.

 

  • परेसान हो चुके हैं ज़िन्दगी की कशमकश से हम
    ठुकरा न दें ज़माने को कहीं बेदिली से हम

 

  • Tu Koi Dariya Hai Ki Saagar Hai Koi Ai Zindagi,
    Mujhko Maaloom To Ho Kaun Se Paani Mein Hun Main.

 

  • तू कोई दरिया है कि सागर है कोई ऐ ज़िन्दगी,
    मुझको मालूम तो हो कौन से पानी में हूँ मैं।

 

  • Kabhi Mere Saath Chal Ke, Kabhi Mujh Ko Saath Lekar,
    Vo Badal Gaye Achanak, Meri Zindagi Badal Ke.

 

  • कभी मेरे साथ चल के, कभी मुझ को साथ लेकर,
    वो बदल गए अचानक, मेरी ज़िन्दगी बदल के।

 

  • Ai Zindagi Ja Dhoodh Koi Gum Gaya Hai Mujh Se,
    Agar Vo Na Mila To Teri Bhi Jarurat Nahi.

 

  • ऐ ज़िन्दगी जा ढूढ़ कोई गुम गया है मुझ से,
    अगर वो ना मिला तो तेरी भी जरुरत नही।

 

  • Maine Zindagi Se Poochha…
    Sabko Itna Dard Kyon Deti Ho?
    Zindagi Ne Hanskar Jawaab Diya,
    Main To Sabko Khushi Hi Deti Hoon,
    Par Ek Ki Khushi Dusre Ka Dard Ban Jaati Hai.

 

  • मैंने जिन्दगी से पूछा..
    सबको इतना दर्द क्यों देती हो?
    जिन्दगी ने हंसकर जवाब दिया,
    मैं तो सबको ख़ुशी ही देती हूँ,
    पर एक की ख़ुशी दुसरे का दर्द बन जाती है।

 

  • Raaste Zindagi Ke Bahut Hi Haseen Hain,
    Sabhi Ko Kisi Na Kisi Ki Talaash Hai,
    Kisi Ke Paas Manzil Hai To Raah Nahin,
    Aur Kisi Ke Paas Raah Hai To Manzil Nahin.

 

  • रास्ते ज़िन्दगी के बहुत ही हसीन हैं,
    सभी को किसी न किसी की तालाश है,
    किसी के पास मंज़िल है तो राह नहीं,
    और किसी के पास राह है तो मंज़िल नहीं।

 

  • Jab Dil Kisi Bojh Se Thak Jata Hai,
    Ehsaas Ki Lau Aur Bhi Badh Jati Hai,
    Main Badhta Hun Zindagi Ki Taraf Lekin,
    Zanjeer Si Paanv Mein Khanak Jati Hai.

 

  • जब दिल किसी बोझ से थक जाता है,
    एहसास की लौ और भी बढ़ जाती है,
    मैं बढ़ता हूँ ज़िन्दगी की तरफ लेकिन,
    ज़ंजीर सी पाँव में खनक जाती है।

 

  • Zindagi Ki Daud Mein Kachcha Rah Gaya,
    Nahin Seekha Fareb Bachcha Rah Gaya.

 

  • ज़िंदगी की दौड़ मे कच्चा रह गया,
    नही सीखा फ़रेब बच्चा रह गया।

 

  • Zaroori To Nahin Ke Shayari Wo Hi Kare Jo Ishq Mein Ho,
    Zindagi Bhi Kuchh Zakhm Bemisaal Diya Karti Hai.

 

  • ज़रूरी तो नहीं के शायरी वो ही करे जो इश्क में हो,
    ज़िन्दगी भी कुछ ज़ख्म बेमिसाल दिया करती है।

 

  • Zindagi Teri Bhi, Ajab Paribhasha Hai
    Sanwar Gayi To Jannat, Nahin To Sirf Tamasha Hai.

 

  • जिन्दगी तेरी भी, अजब परिभाषा है,
    सँवर गई तो जन्नत, नहीं तो सिर्फ तमाशा है।

 

  • Zindagi Aaj Phir Khafa Hai Hamse,
    Jaane Do Na Dosto, Kahan Paheli Dafa Hai.

 

  • ज़िन्दगी आज फिर खफा है हमसे,
    जाने दो न दोस्तो, कहाँ पहेली दफा है।

 

  • Kuchh Dost Kamao Thoda Pyar Kharch Karo,
    Zindagi Mein Hisaab Kuchh Is Tarah Se Karo.

 

  • कुछ दोस्त कमाओ थोड़ा प्यार खर्च करो,
    ज़िन्दगी में हिसाब कुछ इस तरह से करो।

 

  • E-Zindagee, Itanee Thokare Dene Ke Lie Shukriya,
    Chalane Ka Na Sahee Sambhalane Ka Hunar To Aaya.

 

  • ए-ज़िन्दगी, इतनी ठोकरे देने के लिए शुक्रिया,
    चलने का न सही सम्भलने का हुनर तो आया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *